राजस्थान सरकार द्वारा इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का शुभारंभ किया गया है

राजस्थान सरकार द्वारा इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से शहरी क्षेत्रों में मनरेगा की तर्ज पर मांगे जाने वाले काम पर 100 दिन का रोजगार प्रदान किया जाएगा। इस योजना को अब तक ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित किया जा रहा था लेकिन अब इस योजना को शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले नागरिकों के लिए भी कार्यान्वित किया गया है।  इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का नगरपरिषद श्रीगंगानगर में 9 सितंबर 2022 को इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना का शुभारंभ कर दिया गया है। आर्थिक रूप से कमजोर, असहाय एवं बेरोजगार परिवारों को आर्थिक सम्बल प्रदान करने के लिए मनरेगा की तर्ज पर बजट घोषणा के अनुरूप शहरों में भी अब रोजगार सुनिश्चित करने के लिए इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना लागू की गई है। इस योजना से शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले परिवारों को भी जीवनदायिनी करने में मदद मिलेगी। इस योजना के तहत चौकीदारी, छंगाई, माली, स्वच्छता, आवारा पशु पकड़ना, नंदीशाला में कार्य, पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण, हेरिटेज संरक्षण, अतिक्रमण व अवैध बोर्ड/होल्डिंग्स/ बैनर आदि हटाने का कार्य करवाए जाएंगे। इसलिए श्रीगंगानगर शहरी क्षेत्र के जो भी नागरिक इस योजना के माध्यम से 100 दिन का रोजगार प्राप्त करना चाहते हैं वे नगरपरिषद या किसी भी ई मित्र केंद्र पर जाकर पंजीकरण करवा सकते हैं। इस योजना के तहत जन आधार कार्ड के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है। जिन लोगों ने अपने जन आधार कार्ड नहीं बनवाए हैं वह जनाधार ईमित्र या नगर निकाय के सेवा केंद्र के माध्यम से अपने जन आधार कार्ड बनवा ले।
सरकार द्वारा इस के लिए 800 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके अंतर्गत श्रीगंगानगर नगर निकाय में निवास कर रहे 18 वर्ष से 60 वर्ष की आयु वाले नागरिक इस योजना के अंतर्गत अपने जन आधार कार्ड के आधार पर पंजीकरण करवा सकते हैं। यह योजना रोजगार सुनिश्चित करने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों के जीवन स्तर में भी सुधार आएगा। इंदिरा गांधी रोजगार गारंटी योजना शहरी क्षेत्र के नागरिकों को सशक्त एवं आत्मनिर्भर भी बनाएगी।
मनरेगा योजना को अब तक ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित किया जा रहा था लेकिन अब इस योजना को शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले नागरिकों के लिए भी कार्यान्वित किया गया है। यह योजना शहरी क्षेत्र के बेरोजगार नागरिकों को रोजगार प्रदान करने में कारगर साबित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.