अतिथियों की तरह करवाया जाए भोजन : करुणा चांडक

अतिथियों की तरह करवाया जाए भोजन : करुणा चांडक
सभापति का रसोई संचालकों से आग्रह
श्रीगंगानगर। नगर परिषद सभापति करुणा चांडक ने कहा कि इंदिरा रसोई योजना मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की प्रत्येक जरूरतमंद नागरिक के लिए एक अनुकरणीय पहल है।
वे आज दूसरे चरण में आरंभ हुई शहर की पांच इंदिरा रसोइयों के शुभारंभ अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की ओर से महंगाई के इस दौर में कोई भी भूखा ना रहे, की सोच के तहत इंदिरा रसोई योजना आरंभ की थी। जिसमें प्रत्येक व्यक्ति को मात्र ₹8 में पौष्टिकता पूर्ण भोजन प्राप्त होता है। सभापति ने कहा कि शहर में प्रथम चरण में जो रसोई योजना आरंभ की थी, वे पूर्णता सफल रही और द्वितीय चरण में स्थापित की जा रही पांचो इंदिरा रसोइयों के स्थान के चयन को लेकर प्रत्येक पहलू को गंभीरता से लिया गया है। उन्होंने कहा कि हमने ऐसे स्थान चयनित किए हैं जहां शहरी कामगारों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र से किसानों और विद्यार्थी वर्ग का आना जाना रहता है। इंदिरा रसोई के माध्यम से समस्त जरूरतमंदों को गरमा गरम पोस्टिक आहार मात्र ₹8 में उपलब्ध होगा। इस अवसर पर सभापति श्रीमती करुणा चांडक ने रसोई संचालकों से भी आग्रह किया कि स्वास्थ्य से जुड़ा मामला होने के कारण भोजन की गुणवत्ता और पौष्टिकता का पूरा ख्याल रखा जाए तथा उनके यहां भोजन करने के लिए आने वालों को सम्मान पूर्वक तथा मधुर व्यवहार से  भोजन परोसा जाए।
राज्य सरकार के निर्देश पर आज शहर में जिन पांच स्थानों पर इंदिरा रसोई आरंभ की गई है, उनमें इंदिरा चौक, मिनी मायापुरी, ट्रैक्टर मार्केट  हनुमान जी की मूर्ति के पास, रेलवे स्टेशन रोड़, तथा गौरव पैलेस के नजदीक सूरतगढ़ रोड पर स्थापित की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.