चिरंजीवी बीमा योजना में शिकायत पर होगी सख्त कार्रवाई

चिरंजीवी बीमा योजना में शिकायत पर होगी सख्त कार्रवाई
जिला कलेक्टर जाकिर हुसैन की अध्यक्षता में गठित हुई डीजीआरसी कमेटी, आमजन को मिलेगी राहत

19 जुलाई 2021 श्रीगंगानगर ।

आमजन के लिए मुफीद साबित हो रही मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत जिलास्तरीय (डीजीआरसी) कमेटी का गठन किया गया है ताकि मरीज का पूर्णत: नि:शुल्क उपचार हो सके। यदि योजना के तहत निर्धारित पैकेज के बावजूद कोई निजी हॉस्पीटल मरीज या उसके परिजनों से उपचार के नाम पर पैसे मांगता है तो उसकी शिकायत इस कमेटी के समक्ष की जा सकेगी और कमेटी निर्धारित अवधि में कार्रवाई करेगी। आमजन सीएमएचओ ऑफिस या 181 पर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
सीएमएचओ डॉ. गिरधारी मेहरड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत जिला कलेक्टर जाकिर हुसैन की अध्यक्षता में जिलास्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। इसके नोडल ऑफिसर डिप्टी सीएमएचओ डॉ. करण आर्य होंगे। वहीं निगरानी एवं आवश्यक सहयोग व समन्वय के लिए प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर आरएएस डॉ. हरीतिमा को लगाया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में अब अनेक हॉस्पीटल योजना के तहत बेहतर कार्य कर रहे हैं, लेकिन फिर भी कोई निजी हॉस्पीटल मरीज से उपचार के नाम पर राशि मांगते हैं तो उसकी शिकायत विभाग को की जा सकेगी। विभाग की ओर से डीजीएनओ डॉ. करण आर्य 15 दिवस के अंतराल में शिकायत की जांच कर निराकरण करेंगे और यहां निराकरण नहीं होने या अन्य कारण होने पर कमेटी 30 दिन में शिकायत का निस्तारण करेगी। शिकायत सही पाए जाने कमेटी सख्त कार्रवाई कर सकेगी। हॉस्पीटल को योजना से हटाया जा सकेगा। यदि कोई चिकित्सक या कार्मिक लिप्त पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी और उनके लाइसेंस निलंबित करने की अनुशंसा की जाएगी। इसी तरह यदि कोई हॉस्पीटल की ओर से शिकायत है तो कमेटी उनका निराकरण करेगी। हॉस्पीटल प्रबंधक योजना से जुड़े क्लेम या अन्य किसी तरह की समस्या के संबंध में कमेटी को शिकायत दर्ज करवा सकेेंगे। क्लेम संबंधी शिकायत 15 दिवस के भीतर करनी होगी। इनकी समस्या का निराकरण भी 15 से 30 दिवस में करना होगा।
ये हॉस्पीटल है योजना मेें शामिल
सीओआईईसी विनोद बिश्रोई ने बताया कि जिला मुख्यालय पर आस्था किडनी एण्ड जनरल हॉस्पीटल, अर्पण हॉस्पीटल, बंसल स्पेशलिस्टी हॉस्पीटल, डॉ. एसएस टांटिया एमसीएच एण्ड रिसर्च सेंटर (जनसेवा हॉस्पीटल), आदर्श नर्सिंग होम, एंजल हॉस्पीटल, जिंदल ईएनटी हॉस्पीटल, सत्यम हॉस्पीटल, श्री कैलाश हॉस्पीटल, सिहाग हॉस्पीटल, टांटिया जनरल हॉस्पीटल, नागपाल किडनी सुपर स्पेशलिस्टी हॉस्पीटल, सादुलशहर के आयुषमान हॉस्पीटल,  आकाशदीप जनरल हॉस्पीटल और सूरतगढ़ के एपेक्स सूरतगढ़ मल्टीस्पेशलिस्टी हॉस्पीटल, नीलकंठ हॉस्पीटल, वसुंधरा हॉस्पीटल व जीडी हॉस्पीटल शामिल है। आमजन इस संबंध में 181 पर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.