शिक्षा के साथ-साथ हुनर जरूरीः मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, श्रीगंगानगर विधायक राजकुमार गोड़,कलेक्टर जाकिर हुसैन,विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर सभी युवाओं को बधाई दी

शिक्षा के साथ-साथ हुनर जरूरीः मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

श्रीगंगानगर विधायक राजकुमार गोड़,कलेक्टर जाकिर हुसैन,विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर सभी युवाओं को बधाई दी

श्रीगंगानगर, 16 जुलाई।

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ युवाओं के पास हुनर होना चाहिए, इसके लिये सरकार ने विभिन्न माध्यमों से विभिन्न प्रकार के स्किल सेन्टर संचालित किये जा रहे है, जिससे युवा अपनी इच्छा के अनुरूप प्रशिक्षण प्राप्त कर अपने पैरों पर खड़े होकर स्वावलम्बी बन सके।
मुख्यमंत्री गुरूवार को विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में वीसी के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि युवाओं को आगे बढ़ने के लिये किसी न किसी ट्रैड में प्रशिक्षण लेना होगा, जिससे वे अपनी इच्छा के अनुसार कार्य कर स्वावलम्बी बन सकते है। सरकार द्वारा प्रशिक्षण के साथ-साथ स्वरोजगार के लिये वित्तीय संसाधनों में भी सहयोग किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में आईटी का युग है, जिसमें युवाओं को आईटी तकनीक में भी आगे बढ़ना चाहिए।
उन्होंने कोविड-19 का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना की चुनौतियों से निपटने में हम सफल रहे। उन्होंने फिर आगाह किया कि कोविड-19 को लेकर हमें पूरी तरह से सर्तक रहना है। वर्तमान में कोविड नियंत्रण में है, लेकिन कुछ देशों में आई तीसरी लहर ने चिंताएं बढ़ाई है। सावधानी व सजगता से इस महामारी पर विजय हासिल करेंगे।
स्वरोजगार के लिये प्रशिक्षण जरूर लेंः विधायक राजकुमार गौड़


गंगानगर विधायक राजकुमार गौड़ ने विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर सभी युवाओं को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि कोई भी युवा स्किल के बिना आगे नहीं बढ़ सकता। प्रत्येक युवा के पास किसी न किसी प्रकार का हुनर होना चाहिए, जिससे वह स्वयं का रोजगार प्रारम्भ कर सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रशिक्षण के साथ-साथ बैंकों से वित्तीय ऋण का भी प्रावधान किया है।
राजकुमार गौड़ ने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में कोरोना काल में भी अच्छा प्रबंधन रहा, जिसकी देशभर में सराहना हुई। उन्होंने कहा कि हमें अभी कोविड को लेकर चिन्तित रहना है। कोरोना काल में कोई नागरिक भूखा न सोयें की सोच के अनुसार किसी भी नागरिक को भूखा नहीं सोने दिया। सरकार ने युवाओं के लिये स्किल प्रशिक्षण के लिये विभिन्न केन्द्र प्रारम्भ किये हुए है, जहां से युवा जानकारी व प्रशिक्षण ले सकते है।
जो युवा प्रशिक्षण लेकर स्वावलम्बी बने है, वे अन्य युवाओं के लिये प्रेरणा स्त्रोत बनेः जिला कलक्टर
जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर अपने हुनर में आगे बढ़ने वाले युवाओं को 11-11 हजार रूपये की राशि के चेक व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि जो युवा प्रशिक्षण लेकर स्वावलम्बी बने है, वे अन्य युवाओं के लिये प्रेरणा स्त्रोत है। जिला कलक्टर ने कहा कि जिले में राजीविका के माध्यम से व आरसेटी के माध्यम से विभिन्न प्रकार के ट्रैड में प्रशिक्षण दिया जा रहा है, इसके अलावा आईटीआई के माध्यम से भी प्रशिक्षण का प्रावधान है। युवा वर्ग अपनी रूचि के अनुसार ट्रैड का चयन कर प्रशिक्षण ले सकते है। प्रशिक्षण लेने से हुनर में निखार आयेगा, ,कार्य करने की क्षमता बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि जिन युवाओं ने प्रशिक्षण लेकर कार्य प्रारम्भ किया है, वे आज अपने परिवार, अपने माता-पिता का भली प्रकार से भरण-पोषण कर रहे है तथा समाज में उनकी प्रतिष्ठा बढ़ी है।


विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर आजीविका की स्किल आईकन दीपिका एवं जसप्रीत सिंह को जिला कलक्टर  जाकिर हुसैन व विधायक  राजकुमार गौड़ ने 11 हजार रूपये की राशि का चेक एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक कुमार मीणा, जिला कौशल समन्वयक शिखा मुंजाल, आईटीआई के अधीक्षक सुशील कुमार जांदु, रोजगार अधिकारी श्रेष्ठ दीक्षित तथा राजकीय महाविधालय से श्री बलवंत उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.