स्वस्थ हृदय के लिए जीवन शैली में बदलाव जरूरी :दिव्या बावा डायटिशियन मेदांता

स्वस्थ हृदय के लिए जीवन शैली में बदलाव जरूरी :दिव्या बावा डायटिशियन मेदांता

29 सितम्बर 2021

स्थानीय एसएन मेदांता सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल की डाइटिशियन दिव्या बाबा ने विश्व हृदय दिवस के उपलक्ष में आयोजित किया सेमिनार

स्थानीय  एसएन मेदांता सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल की डाइटिशियन दिव्या बाबा ने विश्व हृदय दिवस के उपलक्ष में आयोजित एक सेमिनार में दिल को स्वस्थ रखने के गुर बताए उन्होंने बताया कि रोजाना की व्यस्त जीवनशैली और खान-पान में अनियमितता ने आज लोगों को कई बीमारियों की ओर बढ़ा दिया है। इन बीमीरियों में हार्ट अटैक यानि दिल का दौरा एक ऐसी बीमारी है जो बहुत तेजी से बढ़ रहा है। दिल की बीमारी (Heart Disease) से बचने के प्रति जागरुक करने के लिए हर साल के 29 सितंबर को विश्व हृदय दिवस (World Heart Day) मनाया जाता है। हार्ट अटैक एक ऐसी स्थिति है, जिसमें अधिकतर लोग इसके लक्षणों को नहीं पहचान पाते और इस बीमारी का शिकार हो जाते हैं।

हालांकि, दिल का दौरा पड़ना किसी भी व्यक्ति को खतरनाक साबित हो सकता है।

लेकिन, इसके बावजूद राहत की बात यह है कि कोई भी व्यक्ति इन छह उपायों को अपनाकर इससे बचाव कर सकता है- एक्सराइज़ करना– हार्ट अटैक से बचाव करने में एकसराइज़ करना बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

यह शरीर की मांसपेशियों को मज़बूत करने और प्रतिरोधक क्षमता (इम्युनिटी पावर) को बेहतर करने में सहायक साबित हो सकती है।. हेल्थी डाइट अपनाना- ऐसा माना जाता है कि हमारे खान-पान का हमारे शरीर पर सीधा असर पड़ता है।

यह बात हार्ट अटैक के संबंध में भी लागू होती है।

इसी कारण, यदि कोई व्यक्ति दिल के दौरे से अपना बचाव करना चाहता है तो उसे अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए और केवल हेल्थ डाइट को अपनाना चाहिए।

उसकी डाइट पर कम कोलेस्ट्रॉल वाला भोजन, बिना तला हुआ भोजन, हरी सब्जी एवं फल इत्यादि शामिल होने चाहिए। स्मोकिंग या शराब का सेवन न करना- स्मोकिंग या शराब का सेवन करने वाले लोगों में दिल के दौरे के पड़ने की संभावना काफी हद तक बढ़ने की संभावना रहती है।

अत: उन्हें इन नशीली चीज़ों से परहेज़ रखना चाहिए ताकि उनकी ज़िदगी खतरे में न पड़े और वे खुशहाल ज़िदगी जी पाएं। संतुलित वजन को बनाए रखना– जिन लोगों का वजन अधिक होता है, उन्हें कई सारी बीमारियां जैसे डायबिटीज, रक्तचाप, दिल की बीमारी इत्यादि होने की संभावना रहती हैं। इसी कारण, सभी लोगों को अपने वजन पर विशेष ध्यान रखना चाहिए और उसे किसी भी स्थिति में बढ़ने से रोकना चाहिए।हेल्थ चेकअप करना- यह सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है, जिसका पालन सभी लोगों को करना चाहिए।

यदि हम लोग अपना समय-समय पर हेल्थचेकअप कराएं, तो यह हमें हेल्थी रखने में मदद करते हैं।

यदि हार्ट अटैक के संदर्भ में बात की जाए, तो इससे बचाव करने के लिए समय-समय पर हेल्थचेकअप करना चाहिए ताकि उसे यह पता चले कि उसे कोई बीमारी नहीं है।

पहले से मौजूद बीमारी का पता लगाने के साथ-साथ हेल्थचेकअप किसी गंभीर बीमारी के संभावित लक्षणों का पता लगाने में सहायता करता है और उसका समय रहते इलाज कराने में भी प्रेरित करता है ऑयल का ध्यान रखें – अपनी डाइट में बहुत ज्यादा ऑयली फूड शामिल न करें। ऐसा करने से धीरे-धीरे दिल तक पहुंचने वाली नसों में फैट जमने लग जाता है। इससे हार्ट अटैक की संभावनाएं बहुत बढ़ जाती हैं। अपनी डाइट में सरसों का तेल शामिल करें। रिफाइंड कम खाएं। क्योंकि दिल पर जमा हुआ फैट घटाना बहुत मुश्किल होता है इसलिए पहले ही कम ऑयल खाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.