श्रीगंगानगर: जयपुर से अमृतसर नई ट्रेन को रेलमंत्राी अश्वनी वैष्णव ने दी सहमति

जयपुर से अमृतसर नई ट्रेन को रेलमंत्राी अश्वनी वैष्णव ने दी सहमति,

वाया सादुलपुर, हनुमानगढ, श्रीगंगानगर, अबोहर, बठिंडा, धुरी, लुधियाना,ब्यास प्रस्तावित हैं ट्रैन

श्रीगंगानगर, 11 अगस्त 2021।

इस क्षेत्र की जनता को प्रदेश की राजधानी जयपुर के लिये इन्टरसिटी ट्रेन व श्रीगंगानगर से ओवर नाईट ट्रेन के प्रस्ताव को रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने सैदान्तिक मंजूरी दे दी हैं। इस प्रस्ताव को लेकर सांसद श्री निहालचंद ने मंगलवार को रेलमंत्राी श्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की हैं। इस प्रस्ताव के अनुसार जयपुर से अमृतसर सीधी एक ही ट्रेन को प्रतिदिन दोपहर लगभग 12 बजे जयपुर से रवाना करके वाया सादुलपुर, हनुमानगढ रात्रि करीब 11 बजे श्रीगंगानगर पहुंचाकर आगे अमृतसर के लिये वाया अबोहर, मलोट, बठिंडा, धुरी, लुधियाना, ब्यास प्रातः अमृतसर पहुंचने के बाद वापसी में रात्रि के समय अमृतसर से रवाना करके अगले दिन प्रातः करीब 4 बजे श्रीगंगानगर व दोपहर में जयपुर पहुंचाना सुझाया गया हैं।
इस महत्वपूर्ण प्रस्ताव को रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव के समक्ष रखते हुए निहालचंद ने कहा कि श्रीगंगानगर की जनता आजादी के बाद से आज तक लुधियाना, ब्यास व अमृतसर की सीधी रेलसेवा की बाट देख रही हैं। गुरुनानक देवजी के 5 सौ वे जन्मशती वर्ष के दौरान यह ट्रेन देने की बात चली थी, लेकिन कोविड के चलते यह नही हो पाया था। उन्होंने रेलमंत्री को बताया कि बड़ी संख्या में श्रीगंगानगर क्षेत्रा से श्रद्धालुओं का डेरा ब्यास, व्यापारियों का लुधियाना आना-जाना होता हैं। प्रसिद्ध स्वर्ण मंदिर के लिये बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का आना-जाना होता हैं। रेल सेवा के अभाव में ये सभी बसों की महंगी यात्रा करनी पड़ती हैं।
रेलमंत्री वैष्णव ने सांसद निहालचंद को पूरी तरह आश्वस्त किया हैं कि जल्द ही इस पर कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.