नशा मुक्ति की मुहिम में सभी का साथ जरूरी: बोथरा

नशा मुक्ति की मुहिम में सभी का साथ जरूरी: बोथरा
टांटिया चैरिटेबल नशा मुक्ति एवं पुनर्वास केंद्र की सराहना

24 अगस्त श्रीगंगानगर

भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी उड़ीसा के परिवहन आयुक्त अरूण बोथरा ने नशा मुक्ति की मुहिम में सभी के साथ को जरूरी बताया है। यहां जे. आर. टांटिया चैरिटेबल नशा मुक्ति एवं पुनर्वास केंद्र के अवलोकन के समय उन्होंने सेवाओं की सराहना करते हुए कहा कि नशा बुराइयों की जड़ है, मिलकर कोशिश करने पर ही अंकुश लग पाएगा। नशा मुक्ति एवं पुनर्वास केंद्र के अभियान के अंतर्गत नशा मुक्ति संकल्प पत्र को भी उन्होंने भरा।
नशा मुक्ति एवं पुनर्वास केंद्र के चेयरमैन तथा प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. विकास सचदेवा ने उन्हें गतिविधियों का ब्यौरा दिया। साइकोलॉजिस्ट-काउंसलर डॉ. मनीष अरोड़ा ने केंद्र के नशा मुक्ति के लिए भरवाए जाने वाले संकल्प पत्र अभियान की जानकारी देते हुए बताया कि इसके माध्यम से समूचे क्षेत्र में अलख जगाई जा रही है। बोथरा को केंद्र की तरफ से सम्मानित भी किया गया। इस मौके पर डॉ. एस. एस. टांटिया एमसीएच एंड रिसर्च सेंटर (जन सेवा हॉस्पिटल) के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी बलजीत सिंह कुलडिय़ा, आईईसी को-ऑर्डिनेटर राजकुमार जैन, पेस्टीसाइड डीलर्स एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष दलीप बोरड़ भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि जे. आर. टांटिया चैरिटेबल नशा मुक्ति एवं पुनर्वास केंद्र नशा मुक्त समाज के लिए सक्रिय भूमिका निभा रहा है। समय-समय पर गोष्ठियों आदि का आयोजन भी किया जाता है। नशा मुक्ति संकल्प पत्र का अभियान चलाया जा रहा है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक विक्रम सिंह ने अभियान की विधिवत शुरूआत की थी। पंजाब के निकटवर्ती गांवों में भी इन संकल्प पत्रों को भरने के प्रति उत्साह रहा है। दिल्ली की आयकर आयुक्त डॉ. ममता कोचर, उद्यान विभाग की सहायक निदेशक प्रीति गर्ग, पंजाब के सहकारी बैंक के चेयरमैन डॉ. हरचंद, एकता मंच की महिला शक्ति शाखा की अध्यक्ष मंजू गर्ग सहित काफी विशिष्ट जन इनको भरकर अभियान को ऊर्जा प्रदान कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.