श्रीगंगानगर: सफलता के लिये बिना रूके लगन से कार्य करना चाहिए, स्वरोजगार से स्वयं की व परिवार की आय व साख में होगी बढ़ोतरीः जिला कलक्टर जाकिर हुसैन

श्रीगंगानगर: सफलता के लिये बिना रूके लगन से कार्य करना चाहिए,
स्वरोजगार से स्वयं की व परिवार की आय व साख में होगी बढ़ोतरीः जिला कलक्टर जाकिर हुसैन

श्रीगंगानगर, 16 जुलाई।

जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने कहा कि स्वरोजगार के लिये सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण व वित्तीय प्रबंधन के प्रावधान किये गये है। युवाओं को स्वरोजगार के लिये प्रशिक्षण केन्द्रों में भली प्रकार से प्रशिक्षण लेकर अपने स्वयं का कार्य प्रारम्भ करना चाहिए, जिससे व्यक्ति स्वयं की व परिवार की आय में बढ़ोतरी के साथ-साथ सामाजिक क्षेत्रा में भी साख बढ़ेगी।
जिला कलक्टर श्री हुसैन गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में पंजाब नैशनल बैंक ग्रामीण स्वारोजगार प्रशिक्षण संस्थान, श्रीगंगानगर एवं राजीविका के संयुक्त तत्वाधान में ’’विश्व युवा कौशल दिवस’’ के अवसर पर प्रशस्ति पत्र वितरण समारोह के अवसर पर बोल रहे थे।
इस कार्यक्रम में आरसेटी से प्रशिक्षण प्राप्त कर स्वरोजगार प्रारम्भ कर चुकी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं व अन्य प्रशिक्षणार्थियों को सम्मान स्वरुप जिला कलक्टर द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये व प्रतिभागियों द्वारा हस्तनिर्मित उत्पादों का अवलोकन करते हुए प्रशंसा की।


जिला कलक्टर ने प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि इन उत्पादों को अपने दुकान के साथ-साथ राष्ट्रीय स्तर व राज्य स्तर पर आयोजित विभिन्न मेलों में भाग लेकर उत्पादों का प्रदर्शन करे। साथ ही गांव में अपने इस कार्य को बढ़ाकर समूह से जुड़ी दूसरी महिलाओं को भी स्वरोजगार से जुडने हेतु प्रेरित करे व अपने कार्य को निरन्तर जारी रखे।
पीएनबी आरसेटी के निदेशक शिव सिंह पंवार ने संस्थान द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बारे में अवगत कराया और बताया कि प्रशिक्षण उपरान्त संस्थान के माध्यम से ऋण हेतु आवेदन भी बैंक शाखाओं को प्रेषित कर वितीय सहायता प्रदान करने का प्रयास किया जाता है। राजीविका प्रबंधक चन्द्रशेखर ने आरसेटी संस्थान द्वारा स्वयं सहायता समूह सदस्यों को प्रशिक्षित कर हुनरमंद बनाने पर आभार जताया व बताया कि महिलाएं गांवो में राजीविका परियोजना एवं बैंक के माध्यम से ऋण लेकर स्वरोजगार प्रारम्भ कर आत्मनिर्भर बन रही है।


इस दौरान राजीविका जिला प्रबंधक चन्द्रशेखर, बीपीएम श्रीमती पारस कंवर, आरसेटी संकाय सुभाष चन्द्र, सीएलएफ मैनेजर सिमर कौर उपस्थित रहे। कार्यक्रम में विभिन्न प्रकार के स्वरोजगार (अगरबत्ती निर्माण, बैग निर्माण, काॅस्टयूम ज्वैलरी निर्माण, सेल फोन रिपेयरिंग, ब्यूटी पार्लर, सुअर पालन, एसी व फ्रीज रिपेयरिंग, बकरी पालन) प्रारम्भ कर चुके प्रतिभागी रीतू रानी, रमनप्रीत कौर, संगीता देवी, कान्ता देवी, राजप्रीत कौर, सुखविन्द्र कौर, शिवानी, सुखवीर कौर, इन्द्रा देवी, किरण, सुशीला, अंकित शर्मा, नीरु जसूजा, संगीता, आनन्द सिंह व प्रेम पहुजा को प्रशस्ति पत्र वितरित किये गये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.