टांटिया यूनिवर्सिटी के विधि संकाय की संविधान पर राष्ट्रीय वेबिनार

टांटिया यूनिवर्सिटी के विधि संकाय की संविधान पर राष्ट्रीय वेबिनार

25 जुलाई 2021 श्रीगंगानगर

श्रीगंगानगर। टांटिया यूनिवर्सिटी के विधि संकाय की भारत का संविधान:एक अंतर्दृष्टि विषयक राष्ट्रीय वेबिनार में संविधान के विभिन्न पहलूओं की विवेचना की गई। अधिष्ठाता डॉ. सौरभ गर्ग ने बताया कि पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ लीगल स्टडीज के अधिष्ठाता प्रो. (डॉ.) तरूण अरोड़ा ने मुख्य वक्ता के रूप में कहा कि संविधान को अध्ययन करने के स्थान पर अनुभव करना चाहिए।
मानवाधिकारों की सार्वभौम घोषणा का जिक्र करते हुए मुख्य वक्ता ने मौलिक अधिकार, मानवाधिकार, साक्ष्य अधिकार जैसे संवैधानिक अधिकारों पर भी चर्चा की। प्रो. (डॉ.) अरोड़ा ने कहा कि संविधान प्रकृति प्रदत्त अधिकारों को मान्यता देता है, सभी को इसकी जानकारी होनी चाहिए। असिसटेंट प्रोफेसर संदीप कौर ने आखिर में सभी का आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.